BPSC kya hai तथा BPSC ki Taiyari kaise kare (BPSC की सारी जानकारी)

दोस्तों मेरा नाम अंकित है,
आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि bpsc kya hai तथा bpsc ki taiyari kaise kare

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि bpsc kya hai तथा bpsc ki taiyari kaise kare तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक पढे क्योंकि इस पोस्ट में हम bpsc की तैयारी करने का तरीका तो जानेंगे ही

साथ ही इसके बारे में काफी सारी जानकारियां और भी जानेंगे, जैसे :- BPSC का फुल फॉर्म क्या है, BPSC का सिलेबस क्या है, BPSC एग्जाम का पैटर्न क्या है, BPSC के लिए मुख्य पुस्तके, इत्यादि।

bpsc kya hai aur bpsc ki taiyari kaise kare
BPSC kya hai तथा BPSC ki taiyari kaise kare

मैं आशा करता हूं कि इस पोस्ट में आपको BPSC के बारे में सारी जानकारी प्राप्त होगी साथ ही आपको आपके सवालों के जवाब भी मिलेंगे कि bpsc kya hai तथा bpsc ki taiyari kaise kare

BPSC kya hai ?

BPSC यानी बिहार लोक सेवा आयोग बिहार का एक प्रशासनिक प्रतियोगिता संस्थान है इसके अंतर्गत प्रशासनिक प्रवेश परीक्षा को बढ़ावा देने का कार्य सुचारु रुप से किया जाता है।

बिहार लोक सेवा आयोग का गठन 1 अप्रैल 1949 को बिहार सरकार द्वारा किया गया था और तब से अब तक यह प्रत्येक वर्ष परीक्षार्थियों को एक सुनहरा मौका देती है सभी प्रकार की अधिकारी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से बेहतर विकल्प पाने में

BPSC पीटी की अब तक 66 वीं परीक्षा सफलतापूर्वक संपन्न हो चुकी है तथा इस परीक्षा में उत्तीर्ण होकर लाखों विद्यार्थी अपने इच्छा तथा योग्यता अनुसार मुख्य प्रशासनिक पदों को प्राप्त कर चुके हैं।

BPSC एक प्रकार का प्रवेश परीक्षा है जिससे उत्तीर्ण करने के पश्चात आप अधिकारिक तथा प्रशासनिक पदों के योग्य हो सकते हैं, यह आपको प्रशासनिक पदों में से उच्च प्रदान करती है।

यह परीक्षा राज्य स्तर पर आयोजित किया जाता है तथा यह बिहार में आयोजित होने वाला प्रमुख परीक्षा है।

BPSC का आयोजन UPSC की तरह ही होता है परंतु अंतर बस इतना है कि यूपीएससी संपूर्ण देश में आयोजित होता है परंतु bpsc बिहार में आयोजित किया जाता है।

गत वर्ष यानी 2021 की बीपीएससी पीटी परीक्षा में कुल 2,80,822 परीक्षार्थियों ने भाग लिया था जिसमें से केवल 8,997 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हो पाए

इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह परीक्षा कितना मुश्किल है परंतु आपको निराश होने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है इन सभी मे भाग लेने वाले काफी सारे ऐसे भी होते हैं जो अपने माता-पिता, दोस्त, रिश्तेदारों के कहने पर इस प्रवेश परीक्षा में भाग लेते हैं और वह पीटी में ही छठ जाते हैं।

अगर आप भी bpsc की परीक्षा के लिए गंभीर है तो इस हिसाब से बिल्कुल भी कंपटीशन नहीं है आपके लिए क्योंकि इस पोस्ट में हम इसे सफल करने की रणनीति बताने वाले हैं जिससे आजमाने के बाद आप अवश्य सफल होंगे।

BPSC का Full Form क्या है ?

BPSC ka full form “Bihar Public Service Commission” तथा इसका हिंदी रूपांतरण “बिहार लोक सेवा आयोग” है।

BPSC का पाठ्यक्रम क्या है ? ( BPSC Syllabous in hindi )

BPSC परीक्षा के पाठ्यक्रम इस प्रकार है :-

1.) Prelims का पाठ्यक्रम

इस प्रवेश परीक्षा में परीक्षार्थी को दो प्रकार टॉपिक से जुड़े सवाल पूछे जाती है

A.) सामान्य अध्ययन :-

इसमें परीक्षार्थियों से रोज घटने वाली सामान्य घटना से जुड़ी जानकारियों के बारे में पूछा जाता है तथा इसमें कुछ मानसिक तथा व्यवहारिक जांच किए जाते हैं।

b.) सामान्य ज्ञान :-

इसमें परीक्षार्थी से करंट अफेयर से जुड़ी सवाल पूछे जाते हैं ताकि यह पता चल सके कि परीक्षार्थी को देश दुनिया की जानकारी कितनी है।

2.) Mains का पाठ्यक्रम

इस प्रवेश परीक्षा में परीक्षार्थी को प्रमुख 2पेपर का परीक्षा देना होता है जिसमें सामान्य अध्ययन से जुड़े सवाल पूछे जाते है।

A.) सामान्य अध्ययन पेपर 1 :-

  • भारतीय संस्कृति
  • सांख्यिकी विश्लेषण
  • राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय महत्व के समसायिक घटनाएं
  • भारत के आधुनिक इतिहास

B.) सामान्य अध्ययन पेपर 2 :-

  • बिहार की अर्थव्यवस्था
  • भारतीय एवं बिहार का भौगोलिक ज्ञान
  • भारतीय एवं बिहार की राजनीति
  • विज्ञान एवं तकनीकी तरक्की के भारत तथा बिहार पर प्रभाव

3.) वैकल्पिक विषय

यह पेपर वैकल्पिक विषय का होता है जिसमें परीक्षार्थी अपनी इच्छा अनुसार विषय का चयन कर सकते हैं।

BPSC परीक्षा का पैटर्न क्या हैं ?

बीपीएससी परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को बता दूँ कि अगर आप बीपीएससी में पूर्णता उत्तीर्ण होना चाहते हैं तो इसके लिए आपको तीन पड़ाव से गुजरना होगा

  • Prelims
  • Mains
  • Interview

Prelims

यह प्रवेश परीक्षा बीपीएससी की पहली पड़ाव है इस पड़ाव में आपको केवल 1 पेपर का परीक्षा देना होता है, पेपर कुल 150 अंक का होता है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है यह सभी प्रश्न बहुवैकल्पिक प्रश्न होते हैं।

पेपर संख्याअंकसमय सीमाप्रश्न संख्या
पेपर 11502 घंटे120
bpsc ki taiyari kaise kare

Mains

Prelims को उत्तीर्ण करने के पश्चात परीक्षार्थी को मेंस की परीक्षा यानी दूसरा पड़ाव को पास करना होता है

इस परीक्षा में कुछ 4 पेपर होते हैं पहला जेनरल जो हिंदी में होते हैं जिसके अंकों की सीमा 100 होती है तथा इसके लिए 3 घंटे का समय मिलता है

दूसरा तथा तीसरा पेपर सामान्य अध्ययन का होता है जिसके अंकों की सीमा 300 होती है तथा इन दोनों पेपर के लिए परीक्षार्थी को तीन-तीन घंटे का समय दिया जाता है।

चौथा पेपर वैकल्पिक विषय का होता है इसमें परीक्षार्थी अपनी इच्छा अनुसार विषय का चयन कर सकते हैं यह पेपर 300 अंको का होता है तथा इसकी समय सीमा 3 घंटे की होती है

Note :- Mains के सभी पेपरो में Subjective type question होते हैं।

पेपर संख्याअंकसमय सीमा
पेपर 11003 घंटे
पेपर 23003 घंटे
पेपर 33003 घंटे
पेपर 4120(Optional)
bpsc kya hai

Interview

अगर कोई परीक्षार्थी prelims तथा मेंस परीक्षा में सफल हो जाते हैं तो उसे bpsc की आखिरी पड़ाव यानी इंटरव्यू को उत्तीर्ण करना होता है।

इस साक्षात्कार में आपकी मानसिक जांच की जाती है, यहां आपके मार्क्स तथा मेरिट के हिसाब से तय किया जाता है कि आप सफल हुए या नहीं।

BPSC परीक्षा के लिए योग्यताएं क्या है ? ( BPSC Exam Eligibility criteria )

बीपीएससी की प्रवेश परीक्षा में भाग लेने के लिए निम्नलिखित योग्यताएं की जरूरत होती है :-

  • नागरिकता
  • उम्र सीमा
  • शैक्षणिक योग्यता
  • शारीरिक योग्यता

नागरिकता

अगर आप बीपीएससी की परीक्षा में भाग लेना चाहते हैं तो आपको यह पता होना चाहिए कि इसके लिए नागरिकता का क्या योगदान है

बीपीएससी के परीक्षा में शामिल होने के लिए आप एक भारतीय नागरिक हो। यह फर्क नहीं पड़ता कि आप किस राज्य से हैं, हर वह नागरिक जो भारतीय है वह इस परीक्षा के लिए फॉर्म भर सकता है।

उम्र सीमा

अगर आप एक भारतीय नागरिक हैं और बीपीएससी की परीक्षा के लिए फॉर्म भरना चाहते हैं तो आप की उम्र 21 वर्ष से 42 वर्ष के बीच में होनी चाहिए परंतु यह उम्र सीमा सभी जातियों में बांटा गया है जो कि निम्न है :-

General (Male) – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 37 वर्ष

(Female) – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 39 वर्ष

BC/OBC – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 40 वर्ष

SC/ST – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 42 वर्ष

वर्गनिम्न उम्रअधिकतम उम्र
General (Male) 2137
General (Female)2139
BC/OBC2140
SC/ST2142
bpsc ki taiyari kaise kare

शैक्षणिक योग्यता

अगर आप एक भारतीय नागरिक हैं तथा आपकी उम्र सीमा भी सही है तो अब आपको इसके शैक्षणिक योग्यता पर खरा उतरना होगा

बीपीएससी की प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए आपके पास भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से प्राप्त ग्रेजुएशन फाइनल ईयर की सर्टिफिकेट होनी जरूरी है तभी आप यह परीक्षा दे सकते हैं

शारीरिक योग्यता

अगर आपके पास ऊपर बताए गए सभी योग्यताएं उपलब्ध है तो अब आपको शारीरिक योगिता को पार करना होगा जो कि निम्न है :-

Hi

CastChest (inch) Hight(feet)
General (Male)55.5
Female…………………5.2
BC/OBC315.3
SC/ST315.3
bpsc ki taiyari kaise kare

BPSC ki Taiyari kaise kare ?

हम सभी को अच्छी तरह ज्ञात है कि BPSC राज्य स्तर की सबसे अहम परीक्षा है जिसे सफल होने के उपरांत आप राज्य स्तर की विशेष अधिकारी के पदों को प्राप्त कर सकते हैं।

क्योंकि यह राज्य स्तरीय विशेष परीक्षा है इससे यह भली-भांति ज्ञात होता है कि आसान नहीं होगा इसे सफल होना परंतु अगर आप इसे अच्छी तरह तैयारी के साथ देते हैं तो आप अवश्य इस परीक्षा में सफल होंगे।

BPSC के परीक्षा की तैयारी को अच्छी तरह पूरी करने के लिए मैंने अपने अनुभवों के आधार पर कुछ योजनाएं बनाए हैं जो कि निम्नलिखित है :-

  • इस परीक्षा की तैयारी के लिए आप बीपीएससी परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों को जरूर हल करें तथा कम-से-कम 4 साल पुराने प्रश्नों को हल करें जिससे आपको अनुभव होगा कि इस परीक्षा में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • बीपीएससी की परीक्षा के लिए मिलने वाले पुस्तकों के प्रश्न को हल करते समय यह ध्यान जरूर रखें कि आप कम से कम समय में ज्यादा प्रश्नों को हल कर पाओ ताकि आपको पहले से अभ्यास रहे और परीक्षा में आपको जरा भी दिक्कत ना हो।
  • सबसे पहले आप bpsc की प्रथम परीक्षा की तैयारी करें तथा उसी से जुड़े प्रश्नों को निरंतर हल करें ताकि आपको प्रश्न हल करने का अभ्यास बना रहे
  • इस प्रवेश परीक्षा में केवल एक पेपर होता है जिसमें कुल 120 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसके लिए 2 घंटे का समय मिलता है, आप पुस्तकों की पुराने प्रश्न को 2 घंटे में हल करने की कोशिश करें।
  • Mains की परीक्षा की तैयारी विशेष रूप से करें क्योंकि इसमें सभी प्रश्न सब्जेक्टीव टाइप रहते हैं तथा सभी पेपर में 3-3 घंटे का समय मिलता है, आप पुराने प्रश्नों को इसी समय सीमा में घर पर बार-बार हल करने की कोशिश करें।
  • इसके साथ-साथ आप शारीरिक तथा मानसिक जांच का भी ख्याल रखें क्योंकि इसका भी विशेष योगदान है इस परीक्षा को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण करने के लिए। पढ़ाई के साथ-साथ ब्यायाम तथा बातचीत करने का भी अभ्यास करें।
  • 1 साल का करंट अफेयरस को पढ़ें।

BPSC परीक्षा के लिए कौन सी पुस्तकें पढें ? ( BPSC ke liye Best Book in hindi )

हम सभी को यह पता है कि किसी भी परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए सभी पुस्तकों का अहम योगदान होता है अगर हम गलत पुस्तक पढेंगे तथा उसमें हमारे प्रश्नों की सही जानकारी नहीं होगी तो हम कभी उत्तीर्ण नहीं हो सकेंगे।

इसलिए हमने bpsc की परीक्षा के लिए कुछ विशेष पुस्तकों का चुनाव किया है जिसमें आपको सही जानकारी प्राप्त होगी तथा ज्यादातर students इसे पढकर bpsc को उत्तीर्ण कर चूँके है। यह पुस्तकें निम्नलिखित है :-

Prelims के लिए

पुस्तकेंलेखक
बिहार सामान्य ज्ञानक्राउन पब्लिकेशन
भूगोल एक समग्र अध्ययनमहेश कुमार वर्णवाल
भारत की राज्य व्यवस्थाएम लक्षमीकांत
सामान्य विज्ञानलूसेंट
बिहार एक परिचयइम्तियाज अहमद
भारतीय अर्थव्यवस्थारमेश सिंह
नवीन अंकगणितआर एस अग्रवाल
सामसारिक वर्णिकीप्रतियोगिता दर्पण
आधुनिक भारत का इतिहासबिपिन चंद्र
सामान्य ज्ञानलूसेंट
bpsc kya hai

Mains के लिए

पुस्तकेंलेखक
व्यवहारिक सामान्य हिंदीडाॅ सविता पयावाल
भारत का प्राचीन इतिहासराम शरण शर्मा
आधुनिक भारत का इतिहासबिपिन चंद्र
भारत का स्वतंत्रता संघर्षबिपिन चंद्र
सांख्यिकी विश्लेषणस्पेक्ट्रम
मध्यकालीन भारतसतीश चंद्र
गांधी नेहरू एवं टैगोरस्पेक्ट्रम
भारतीय अर्थव्यवस्थारमेश सिंह
भारत का भूगोलमाजिद हुसैन
भारत की राजव्यवस्थाएम लक्षमीकांत
विज्ञान और प्रौद्योगिकीरवि पी अग्रवाल
भौतिक और मानव भूगोलआॅक्सफोर्ड
bpsc ki taiyari kaise kare

BPSC का कितना महत्व है ?

जैसा कि हम सभी जानते हैं बीपीएससी क्या है और इसके परीक्षा कितने मुश्किल होते हैं अगर आप इस परीक्षा को गंभीर होकर नहीं देते तो कभी भी सफल नहीं हो सकते हैं

इससे यह भी ज्ञात होता है कि इसका कितना महत्व है अगर आप या हम bpsc परीक्षा को उत्तीर्ण नहीं करते तो किसी भी हाल में उच्च अधिकारीक पदों के योग्य नहीं हो सकते हैं।

बीपी का परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद आपके पास काफी सारे नौकरी का ऑप्शन आता है जिससे आप अपनी पसंद के अनुसार चुन सकते हैं उसे प्राप्त कर सकते हैं।

BPSC के बाद कौन सी नौकरी मिलेगी ?

बीपीएससी की परीक्षा को सफलतापूर्वक संपन्न करने के उपरांत आपके पास काफी सारे पद होते हैं जिस पर आप कार्यरत हो सकते हैं यह सभी पद बिहार के शीर्ष पदों में से होता है

जिन्हें पाकर पैसे तथा रूतवो की कोई अंत नहीं होती हर कोई इस पद के लिए हर कोई लालायित रहता है तथा कभी ना कभी इसे हासिल करने की इच्छा हर किसी में रहती है। इन पदों में से कुछ मुख्य पद निम्नलिखित है :-

  • बिहार प्रशासनिक सेवा
  • बिहार पुलिस सेवा
  • बिहार वित्तीय सेवा
  • उत्पाद निरीक्षक
  • ग्रामीण विकास अधिकारी
  • रोजगार अधिकारी

आपके कुछ प्रश्न तथा उसके उत्तर

Q.1) BPSC का फुल फॉर्म क्या है

Answer :- BPSC ka full form “Bihar Public Service Commission” तथा इसका हिंदी रूपांतरण “बिहार लोक सेवा आयोग” है।

Q.2) BPSC के लिए कौन सी बुक पढें ?

Answer :-

Prelims के लिए –

  • बिहार सामान्य ज्ञान,
  • भूगोल एक समग्र अध्ययन,
  • भारत की राज्य व्यवस्था,
  • सामान्य विज्ञान,
  • बिहार एक परिचय,
  • भारतीय अर्थव्यवस्था,
  • नवीन अंकगणित,
  • सामसारिक वर्णिकी,
  • आधुनिक भारत का इतिहास,
  • सामान्य ज्ञान

Mains के लिए –

  • व्यवहारिक सामान्य हिंदी
  • भारत का प्राचीन इतिहास
  • आधुनिक भारत का इतिहास
  • भारत का स्वतंत्रता संघर्ष
  • सांख्यिकी विश्लेषण
  • मध्यकालीन भारत
  • गांधी नेहरू एवं टैगोर
  • भारतीय अर्थव्यवस्था
  • भारत का भूगोल
  • भारत की राजव्यवस्था
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी
  • भौतिक और मानव भूगोल

Q.3) BPSC करने के उपरांत कौन सी नौकरी मिलती है ?

Answer :- बीपीएससी परीक्षा को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होने के उपरांत आपको राज्य की प्रमुख पदों में से किसी एक पद से संबोधित किया जाता है, मुख्य पद निम्नलिखित है :-

  • बिहार प्रशासनिक सेवा
  • बिहार पुलिस सेवा
  • बिहार वित्तीय सेवा
  • उत्पाद निरीक्षक
  • ग्रामीण विकास अधिकारी
  • रोजगार अधिकारी

Q.4) BPSC के लिए क्या योग्यता चाहिए ?

Answer :- बीपीएससी की परीक्षा फॉर्म भरने के लिए निम्नलिखित योगिताओं की आवश्यकता होती है

आप किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से ग्रेजुएशन पास हो।
आप एक भारतीय नागरिक हो।
आपकी उम्र 21 वर्ष से 37 वर्ष के बीच हो।
आपकी शारीरिक योग्यता सही होनी चाहिए।

Q.5) BPSC पात्रता आयु सीमा क्या है ?

Answer :- बीपीएससी के लिए आयु सीमा निम्नलिखित है :-
General (Male) – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 37 वर्ष

(Female) – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 39 वर्ष

BC/OBC – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 40 वर्ष

SC/ST – निम्न उम्र सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम उम्र सीमा 42 वर्ष

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट में हमने जाना कि bpsc kya hai तथा bpsc ki taiyari kaise kare

साथ ही इस पोस्ट में हमने bpsc के बारे में काफी महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त की जैसे :- बीपीएससी का फुल फॉर्म क्या है, बीपीएससी सिलेबस क्या है, बीपीएससी एग्जाम का पैटर्न क्या है, बीपीएससी के लिए योग्यताएं क्या है, बीपीएससी के बाद प्रमुख पद क्या है, इत्यादि।

आशा करता हूं इस पोस्ट से आपको काफी कुछ नया सीखने को मिला होगा साथ ही आपको आपके प्रश्न के उत्तर भी मिल गए होंगे कि bpsc kya hai तथा bpsc ki taiyari kaise kare

इसे भी पढें :-

2 thoughts on “BPSC kya hai तथा BPSC ki Taiyari kaise kare (BPSC की सारी जानकारी)”

Leave a Comment