ORS Full Form क्या है ? | ORS क्या है | ORS घोल कैसे बनाएँ

दोस्तों मेरा नाम अंकित है,
आज की इस पोस्ट में हम और आप जानेंगे कि ors full form kya hai

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि ors full form kya hai या ORS का पूरा नाम क्या है, तो इस पोस्ट को बिल्कुल अंत तक जरूर पढिए

क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको ORS Full Form के साथ साथ ORS के बारे में सारी जानकारी देने वाले हैं, जैसे :- ORS क्या है, ORS के क्या-क्या काम है, ORS के के फायदे क्या है, और इसका उपयोग कहां किया जाता है, इत्यादी।

ors full form hindi
ORS Full Form hindi

इन सारे सवालों के जवाब आपको इसी पोस्ट से प्राप्त होगा तथा इसके बाद आपको ORS की सारी जानकारी मिल जाएगी साथ ही आपके मन से यह प्रश्न भी निकल जाएगा कि ors full form kya hai

ORS क्या है ?

ORS को जीवन रक्षक घोल भी कहते हैं यह एक प्रकार की दवा है जिसका इस्तेमाल शरीर में पानी की कमी को दूर करने, दस्त से छुटकारा पाने तथा उल्टी को रोकने के लिए डॉक्टरों की सलाह के आधार पर किया जाता है

ओ.आर.एस एक प्रकार का घोल है जो पानी में मिलाकर पिया जाता है और इसे पीने के उपरांत शरीर में उपस्थित पानी की कमी को पूरा किया जाता है।

अगर किसी व्यक्ति को अचानक चक्कर आ जाता है या वह व्यक्ति अचानक गिर जाता है या बेहोश हो जाता है उस स्थिति में उसके शरीर में पानी की कमी को दूर करने के लिए ors का इस्तेमाल किया जाता है।

ऐसी स्थिति में डॉक्टर सबसे पहले ओआरएस का इस्तेमाल करने का निर्देश देते हैं ताकि उस व्यक्ति के शरीर में उपस्थित पानी की कमी को पूरा किया जा सके

इसके साथ-साथ ओआरएस का उपयोग ज्यादातर बच्चों के लिए किया जाता है क्योंकि अक्सर छोटे बच्चों को डायरिया, उल्टी या दस्त की शिकायत रहती है इस स्थिति में ors सभी तकलीफों को दूर करने में मददगार साबित होता है।

WHO (World helth origination) ने शरीर में पानी की कमी, उल्टी, दस्त तथा छोटे बच्चों में हो रही डायरिया की शिकायत को दूर करने के प्राथमिक उपचार के रूप में ORS को चुना है।

ORS Full Form क्या है ?

ORS Full Form “Oral Rehydration Solution” है। तथा इसका हिंदी रूपांतरण “साधारण निर्जलीकरण चिकित्सा” है।

O – Oral
R – Rehydration
S – Solution

ORS कैसे बनता है ?

ORS घोल दो प्रकार के होते हैं, पहला जो पैकेट के रूप में आपको आपके नजदीकी दवा दुकान में मिलता है और दूसरा जो आप घर पर खुद से बनाते हैं।

हालांकि दोनों के एक ही फायदे हैं और दोनों का उपयोग आप आसानी से कर सकते हैं, जो पैकेट आप दुकान से खरीद कर लाते हैं उसमें भी वही कॉम्पोनेंट होते हैं जो आप घर पर खुद से बनाते हैं।

अगर आप खुद से घर पर आसानी से ओआरएस घोल को तैयार करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए निर्देश को फॉलो करें

  • सबसे पहले एक गिलास सादा पानी ले और उसे उबाले
  • उबालने के उपरांत उसे पूरा ठंडा कर ले
  • अब उस पानी को एक साफ गिलास में रखें
  • उसमें बराबर-बराबर मात्रा में नमक तथा चीनी डालें
  • साथ ही उसमें कुछ मात्रा में नींबू भी डालें
  • सबकुछ डालने के बाद उसे अच्छी तरह मिलाएं
  • वह अच्छी तरह घूल जाए तो उसे पी ले

यह एक आसान तरीका है घर पर सरल तरीके से ors घोल को तैयार करने का, इसे आप समान तरीके से बार-बार बना सकते हैं।

काफी सारे लोग इन परेशानियों से बचने तथा समय की बचत के लिए दुकान से ors का पैकेट लाकर पी लेते हैं हालांकि इससे भी आपको समान फायदा मिलता है।

ORS के उपयोग क्या है ?

ओआरएस का उपयोग मुख्यतः निम्नलिखित रूप में किया जाता है :-

  • अगर किसी व्यक्ति को चक्कर आता हो
  • अगर किसी व्यक्ति को उल्टी हो रहा है
  • अगर किसी व्यक्ति को दस्त हो रहा हो
  • किसी छोटे बच्चों को डायरिया हो गया हो
  • किसी व्यक्ति के शरीर में पानी की कमी हो गई हो
  • किसी व्यक्ति को डिहाइड्रेशन हो गया हो
  • किसी को ग्लूकोज की कमी हो

ORS घोल की मुख्य विशेषताएं

ओआरएस घोल की प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित है :-

  • शरीर में हो रही पानी की कमी को पूरा करना
  • दस्त तथा उल्टी को अति शीघ्र रोकना
  • शरीर में उपस्थित गर्मी को दूर करना
  • शरीर में हो रही ग्लूकोज की कमी को दूर करना
  • अचानक आ रहे ज्यादा पसीने को रोकना
  • बच्चों को हो रही डायरिया को तुरंत रोकना
  • बच्चों को हो रही दस्त को रोकने
  • किसी को अचानक आ रही चक्कर को रोकने के लिए

ORS का घोल कब लेना चाहिए ?

मुख्यत: ors का घोल तब लेना चाहिए जब किसी व्यक्ति या किसी बच्चे के शरीर में निम्नलिखित प्रकार की घटना अचानक घटने लगे :-

  • अचानक चक्कर आना या बेहोश हो जाना
  • अचानक शरीर से ज्यादा मात्रा में पसीने का आना
  • शरीर में अचानक ज्यादा कमजोरी महसूस होना
  • किसी को अचानक बार-बार उल्टी या दस्त का होना
  • धूप में चलने के कारण चक्कर का आना

ORS का इतिहास क्या है ?

19वीं सदी से पहले जब चिकित्सा उतना आगे नहीं था, उस समय डायरिया के कारण लाखों लोगों की मौत हर वर्ष हो जाती थी और इसका असर ज्यादातर छोटे बच्चों तथा गरीब लोगों पर होता था

क्योंकि उस समय आर्थिक स्थिति काफी खराब थी इस कारण लोग ओ.आर.एस को खरीद कर उपयोग नहीं कर पाते थे।

इन सभी समस्याओं को मध्य नजर रखते हुए WHO (world health origination) ने ors के घोल को घर पर बनाने की विधि को तैयार किया जिससे लोग घर में उपस्थित सामानों से इस गोल को तैयार कर सकते थे।

इस प्रयास के बाद से लोग इसे अपने घर पर बनाकर इसका सेवन करने लगे तथा इसके बाद डायरिया से मरने की रफ्तार निरंतर कम होने लगी।

आपके कुछ प्रश्न तथा उसके उत्तर

Q. 1) ORS Full Form क्या है ?

Answer :- ORS Full Form “Oral Rehydration Solution” है और इसका हिंदी रूपांतरण “साधारण निर्जलीकरण चिकित्सा” है।

Q. 2) ओआरएस का दूसरा नाम क्या है ?

Answer :- ओआरएस का दूसरा नाम जीवन रक्षक घोल है और यह नाम ज्यादा लोग इस्तेमाल करते है।

Q.3) ओआरएस घोल कैसे बनता है ?

Answer :- ORS का घोल मुख्यत: घर पर बनाने के लिए निम्न सामग्री की आवश्यकता होती है :-

  1. एक गिलास सादा पानी
  2. आधा चम्मच नमक
  3. आधा चम्मच चीनी
  4. कुछ मात्रा नींबू

इसे अच्छी तरह पानी में घोले तथा घोलने के बाद आपका घोल बनकर तैयार हो जाएगा।

Q. 4) ओआरएस घोल पीने से क्या लाभ होता है ?

Answer :- ओआरएस घोल को पीने से शरीर में पानी की कमी दूर होती है साथ ही शरीर को सही मात्रा में हाइड्रोजन, ग्लूकोस तथा एनर्जी मिलती है जिसके उपरांत शरीर की पानी की कमी को पूरा किया जाता है साथ ही उल्टी, दस्त तथा कमजोरी से छुटकारा मिलता है।

Q.5) जीवन रक्षक घोल ors का प्रयोग कब किया जाता है ?

Answer :- जीवन रक्षक घोल ओ.आर.एस का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी व्यक्ति के शरीर में कमजोरी, थकान, अत्यधिक पसीना आना, उल्टी तथा दस्त जैसी परेशानियां अचानक उत्पन्न हो जाती है तथा इसका प्रयोग अक्सर बच्चों को हो रही डायरिया यानी उल्टी और दस्त को तुरंत रोकने के लिए किया जाता है।

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने जाना कि ors full form kya hai साथ ही हमने ओ.आर.एस के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की जैसे ors क्या है, ors कैसे बनता है, ors के क्या-क्या लाभ है, ors को घर पर कैसे बनाएं, इत्यादि।

आशा करता हूं आपको ओ.आर.एस के बारे में सारी जानकारियां प्राप्त हो गई होगी साथ ही आपके मन से यह प्रश्न भी निकल गया होगा कि ors full form kya hai

इसे भी पढें :-

Leave a Comment